Tag Archives: STORY

पहले हमारी स्थिती ख़राब थी, अब कुछ सुधार हो रहा है…

शांतिनगर,  जिला-नारायणपुर  (छत्तीसगढ़) से लालसाय कावडे बता रहे हैं, उनकी गाँव स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी और आर्थिक स्थिती भी खराब थी,  इस कारण वे शहर में आकर बस गये और वहां काम कर अपना जीवन जीने लगे | अभी वे झोपड़ी बनाकर रहते है, और मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं, उन्हें सरकार की किसी के योजना के बारे में पता नहीं चलता,  वे  नये लोगो से बात करने से घबराते हैं, आज वो मध्यप्रदेश के सीजीनेट के सांथियो से मिले उनके काम के बारे में जाने तो बहुत अच्छा लगा उनका कहना है  कि वे भी लोगो की मदद करने की कोशिश करेंगे | वे लोग 2003-04 से शहर में रह रहे हैं, अभी स्थिति में कुछ सुधरने लगा है |

Download (16 downloads)

हमारा गाँव वनो से घिरा है, जानवरों का खतरा होता है, कई बार हांथी फसल नष्ट कर देते हैं…

ग्राम-रसौकी,  पंचायत-ओमझर,  तहसील-ओडगी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से  रामप्रकाश  और रामलाल बता रहे हैं, उनका गाँव वनो से घिरा है, वहां अनेक जानवर रहते हैं, जैसे शेर, सियार, भालू, चीता, हांथी अदि | कई बार हांथी उनके खेत उजाड़ देते हैं, फसलो को खा जाते हैं ,  जिसकी सूचना वे वन अधिकारियों के पास देते हैं, लेकिन अधिकारी कहते है जितना नुकसान हुआ है उससे ज्यादा बनवाने में लग जायेगा, इस तरह अधिकारी बात को टाल देते हैं, और पीड़ित की कोई मदद नहीं होती,  गाँव में लोग जानवरों को  भगाने के लिये वाद्य यंत्रो का प्रयोग करते हैं | इस तरह ग्रामवासी समस्याओं के बीच जीवन जीते हैं :  संपर्क नंबर@8120068198.

Download (14 downloads)

हमारे गांव का नाम पहले गौरी था, बाद में बदलकर गोविंदपुर रखा गया…कहानी-

चांदनी चौक, गोविंदपुर, तहसील-प्रातापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से बस्तीराम नागवंसी गांव में निवासी हीराचंद पटेल से चर्चा कर रहे हैं, वे बता रहे हैं, पहले गांव का नाम गौरी था, बाद में नाम बदलकर गोविंदपुर रखा गया, ये जानकारी उन्हें अपने पूर्वजो से मिली है, वर्तमान में गांव का नाम गोविंदपुर है, जिसका अर्थ भगवान का स्थान है:  संपर्क नंबर@9425648073.

Download (14 downloads)