Tag Archives: GONDI SONG

पुर पड़ते बरंग हो, बरंग मामा ले…गोंडी गीत-

ग्राम-सावेर, तहसील-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से रुक्ता हुसेंडी एक गोंडी गीत सुना रही हैं, जिसे शादी और होली के समय गया जाता है :
रे रे लोयो रे रेला, रेला रे रेला-
पुर पड़ते बरंग हो, बरंग मामा ले-
पुर पडते केडिंग हो, केडिंग बचा ले-
निया मियाड मतिक हो, मतिक मामा ले-
हिले यायो मंता हो, मंता बचा ले…

Download (0 downloads)

तीना ना मोर नानो इंजो रे ओ इंगोरा लयोर…गोंडी गीत-

ग्राम-मारकानार, तहसील-पखांजूर, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से दुर्गुराम और दयाराम सलाम एक गोंडी गीत सुना रहे हैं, जिसे दीवाली और दशहरा त्योहार के समय गया जाता है :
तीना ना मोर नानो इंजो रे ओ इंगोरा लयोर-
तीना ना मोर नानो इंजो रे-
ऐ ओ इंगोरा लयोर तीना ना मोर नानो इंजो रे-
यादे बदे पेनो इंजो रे, ओ इंगोरा लयोर…

लयोर मांडा अरतूराले कोडारू दादा…गोंडी शादी गीत

गोंडवाना भवन, तहसील-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से सनी हुसेंडी एक गोंडी रेला गीत सुना रही हैं, इस गीत को शादी के अवसर पर मण्डप में  गाते हैं :
रे रे लोयो, रेला रेला, रेला-
लयोर मांडा अरतूराले कोडारू दादा-
एंजे वाती तोड्हुर ची कोडारू दादा-
नगन वासी माने नाले कोडारू दादा-
डेसे मांडा अरतुराले कोडारू दादा…

Download (1 download)