Tag Archives: AGRICULTURE

हम खेती में राशयानिक खाद का प्रयोग नहीं करते, जैविक खेती करते है-

जबलपुर  (मध्यप्रदेश)  से प्रदीप  दुबे  बता रहे हैं, कि वे जैविक खेती पर काम  करते हैं,  वे आदिवासियों की प्रचलित पद्धति के अनुसार खेती करते हैं,  खेती में किसी प्रकार की रासायनिक खाद का उपयोग नहीं करते हैं, गोबर खाद का प्रयोग कर करते हैं, जिसमे 4 -5 महीने में फसल तैयार हो जाती है, वे 2 तरह की फसल उगाते हैं,  कोदो और कुटकी | आज से पहले लोग उन फसलों को अपने खाने के लिये उगाते थे, लेकिन आज के समय में बीमारियों को दूर करने में उपयोग होने लगा है, जिनको डायबटीज की समस्या है वे इसका उपयोग कर रहे हैं, बड़े शहरों में अभी इसकी बड़ी मात्रा में मांग है |

Download (14 downloads)

अमूल के तर्ज पर पिलखा क्षीर प्लांट शुरु किया गया है, जिसका उद्देश्य कृषि और पशु पालन बढ़ाना है-

ग्राम-सिलफिली, ब्लाक-सूरजपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से राजेश कुमार कुसवाहा बता रहे हैं, उनका गांव कृषि प्रधान है, वहां पशु पालन होता है, जिससे दूध उत्पादन पर्याप्त मात्रा में हो जाता है, इस वजह से वहां पर अमूल के तर्ज पर पिलखा क्षीर नाम से प्लांट शुरु किया गया है, जिसमे 1500 से 2000 लीटर दूध उत्पादन प्रतिदिन होता है, सांथ ही डेरी उत्पाद जैसे पनीर, खोवा, मिठाईयां बनाई जाती है, प्लांट से 200 – 300 किसानो को लाभ मिल रहा है, शासन की योजना है कि भविष्य इससे 5000 किसानो को लाभ मिले, प्लांट खुलने के बाद 30 रूपए से 32 रुपए प्रति लीटर मूल्य पर दूध की खरीदी हो रही है, परियोजना की शुरुवात कलेक्टर द्वारा गाँव लोगो के सहयोग से किया गया है, परियोजना का उद्देश्य कृषि और पशु पालन को बढ़ावा देना है |
राजेश कुमार कुसवाहा@9893570386.

Download (23 downloads)