माँ शारदे वरदे हमें, तेरी शरण का प्यार दे…वंदना गीत-

ग्राम-मेढ़ो, तहसील-दुर्गुकोंडल, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से कुमारी सुप्रिया नरेटी, कुमारी सोहंतीन दर्रो और कुमारी होलिका दुग्गा एक सरस्वती वंदना सुना रहे हैं :
माँ शारदे वरदे हमें, तेरी शरण का प्यार दे-
भव बंध के तूफान से, माता तू हमको उबार दे-
माँ काट दो अज्ञान को, जग में तेरा ही प्रकश हो-
और हर ह्रदय में ध्यान तेरा, मान से सम्मान से-
हंसासनी पद्मसनी हे विडा वादनी शारदे…

Download (11 downloads)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *